शुक्रवार, 19 मार्च 2010

बेलगाँव और गोआ


ट्रेनिंग सेन्टर से एक बार मैं गोआ गया था- अकेले (बेशक, भागकर- जिसे 'बंक आउट' कहते थे). आग्फा-508 कैमरा था, फोटो भी कई खींचे थे मैंने. कभी मिल गये तो उन्हें पोस्ट करूँगा.
बेलगाँव से आधी रात में मटगाँव के लिये ट्रेन थी. समय बिताने के लिये मैंने पास के सिनेमा हॉल में 'राजा और रंक' फिल्म नाईट शो देखी थी.


ए.टी.आई. (प्रशासनिक प्रशिक्षण संस्थान), वायु सेना, बेलगाँव में 5/85 इनटेक के बिहार बैच के लड़्के.
(नाम भी बता दूँ- बाँए से खड़े- आर.के. (यह बम्बई बैच का था, मगर बिहारी होने के कारण हमारे साथ था), ठाकुर आर.पी., शर्मा ए.सी., मिश्रा के.के., पाण्डे जे.एस., साहा पी.के., कुमार एम., श्रीवास्तव एस.के.; बैठे- पाण्डे ए.के., पाल एन.के. और मैं.)

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें